Recent Comments

घर बनाना हुआ अब सस्ता –GST काउंसलिंग ने दी राहत


gst के लिए चित्र परिणाम

उल्लेखनीय हैं की GST की काउंसिलिंग ने छोटे व्यापारियों को बड़ी राहत देते हुए ! घर बनाने के सामान तथा कंस्ट्रक्शन में इस्तेमाल किये जाने वाले मुख्य सामानों पर GST का बोझ कुछ कम किया हैं !
जहा एक और छोटे व्यापारियों को टेक्स में इन बन्द्लावो से राहत मिली हैं वही घर बनाने का सम्पना देख रहे परिवारों को भी ख़ुशी हुई हैं की मकान बनाने में आने वाले खर्चो में कुछ कमी तो संभावित हुई हुई हैं!
हमें देखना होगा की आखिर क्या और केसे बदलाव GST काउंसलिंग ने किये हैं !
कम्पोजीशन में मेन्युफेक्चरर को 2% की जगह अब सिर्फ 1% GST टेक्स लगेगा वही टर्नओवर लिमिट को बढ़ाया गया हैं 1.5 करोड़ तक!




आईये जानते हैं क्या मुख्य बदलाव GST काउंसलिंग ने तय किये हैं और इन बन्द्लावो का विभिन्न क्षेत्रो पर क्या असर पडेगा!
·         मकान बनाने के सामान पर टेक्स 28% से घटकर 18%
विभिन्न वस्तुए जिनके माध्यम से मकान बनाने में उपयोग की जाती हैं उनपर उक्त स्लेब के तहत टेक्स अनुमानित किया गया हैं! ये वस्तुए प्लास्टिक के बने फ्लोर कवर,बाथरूम तथा शावर फीटिंग में उपयोगी बस्तुये,वाश बेसिन,लेवेटरी पेन सिट कवर,फ्लशिंग सिस्टरन आदि वस्तुओ को नए टेक्स स्लेब में रखा गया हैं!
इसके अलावा घर बनाने में प्रयुक्त होने वाली वस्तुए जेसे सेमरिक फ्लोरिंग अथवा टाइल्स,सेमारिक से बने सिंक,वाश बेसिन तथा अन्य बाथ फिटिंग्स भी शामिल हैं!
मकान की चमक दमक तथा फिनिशिंग में प्रयुक्त की जाने वाली वस्तुए जेसे ग्रेनाईट तथा मार्बल को पर भी अब 28% के बजाये 18 % टेक्स के स्लेब में ही रखा जाएगा ! इसके साथ ही पलस्टर अथवा प्लास्टर/सीमेंट से मिश्रित चीजे जेसे टाइल्स/वाल आदि भी इसी स्लेब में आएँगी !
घर के दरवाजो खिडकियों में प्रयुक्त होने वाली वस्तुओ पर भी फिलहाल टेक्स की सीमा 18 % की गयी हैं इन वस्तुओ में लोहे अथवा स्टील के बने सेनेतारिक सामान,दरवाजे,खिड़की तथा खिडकियों के फ्रेम,ताम्बा तथा एल्युमिनियम के सामान(सिर्फ मकान बनाने में प्रयुक्ति हेतु ना की बर्तन)
अन्य वस्तुए जेसे नेम/साइन प्लेट,फर्नीचर तथा फ्लोर पालिश,वाल पेपर तथा कवरिंग !
इन सभी वस्तुओ पर टेक्स में कटोती से ये तो साफ़ हो गया की सरकार अपनी हाउसिंग फोर आल मिशन के लिए सजग हैं!
पुराने टेक्स 28% के साथ लोगो को मकान बनाने में आने वाले खर्चो पर अत्यधिक भार का सामना करना पड़ता था जिससे की इस बदलाव के कारण थोड़ी राहत मिलेगी!


·         कंस्ट्रक्शन उद्योग के उपयोग में आने वाली वस्तुओ पर भी 28% के बजाए 18%
टेक्स में बदलाव सिर्फ मकान बनाने के सामान पर ही कटोती नहीं की गयी हैं बल्कि इससे जुड़े उद्ध्योग के सामान को भी इन बदलाव में रखा गया हैं !
मुख्यत कंस्ट्रक्शन उद्योग मकान बनाने से जुडा मुख्य उद्योग माना जाता हैं जहा एक और मकान बनाने में उपयोगी वस्तुओ के टेक्स में परिवर्तन किया जाता तथा कंस्ट्रक्शन उद्योग में उपयोगित वस्तुओ में कोई बदलाव नहीं किया जाता तो घर बानाने का सपना देख रहे लोगो को कोई राहत न मिलती इसी को ध्यान में रखते हुए काउंसलिंग ने कंस्ट्रक्शन उद्योग में उपयोग आने वाली चीजो पर भी टेक्स 28% से घटाकर 18% किया हैं !
वे वस्तुए मुख्यत: वजन को तोले जाने वाली इलेक्ट्रिक अथवा इलेक्ट्रानिक मशीने, अग्निशामक यंत्र,फोर्क लिफ्ट,बुलडोजर,लोडर,रोड रोलर,अर्थ मूविंग मशीने,कुलिनट टावर,रिएक्टर साउंड/मुजिकल यंत्र,रबर ट्यूब,साल्वेंट तथा थिनर !

उपरोक्त दोनों क्षेत्रो कि वस्तुओ में टैक्स की दर को घटाकर सरकार ने घर बनाने का सपना देख रहे परिवारों को बहुत राहत दी हैं !

यदि आपको उक्त लेख पसंद आया तो लाइक और सब्सक्राईब अवश्य करे! साथ ही ये जानकारी लोगो को शेयर करके उनकी भी मदद करे !

मेरे साथ ब्लॉग पर बने रहने के लिए धन्यवाद !आपके लिए हाउसिंग,फायनेंस,ऋण आदि के जानकारीयुक्त लेख आपको यही मिलते रहेंगे !
SHARE

Manglesh Rao

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें