Recent Comments

होम लोन एक फायदे अनेक I Many Benefits of Home Loan

Benefit के लिए इमेज परिणाम

क्या आप जानते हैं की घर खरीदने के लिए लिए गए होम लोन के अनेक फायदे हो सकते हैं !

 भारत में कर्ज लेना, अच्छा नही समझा जाता लेकिन, घर खरीदना हमारी मूल आवश्यकताओं में शुमार हैं! लेकिन, यदि होम लोन की सभी खासियत देखे तो, होम लोन के अनेक फायदे होते हैं ! दरअसल, होम लोन अन्य लोन से बिलकुल अलग होता हैं ! आज हम जानेंगे की कैसे होम लोन आपके लिए फायदे का सौदा बन सकता हैं ! जानते हैं वो क्या बारिकिया और जानकारी हैं जिससे होम लोन के फायदे हो सके ! यहाँ हम आपको 9 पॉइंट्स में समझायेंगे की कैसे होम लोन लेना हैं और क्या हे उसके फायदे ये जानकारी थोड़ी लम्बी जरुर हैं लेकिन इसे पूरा समझना आपके लिए बहुत जरुरी हैं !


होम लोन की पात्रता 

होम लोन के फायदो को समझने से पहले हमें समझना होगा की होम लोन की पात्रता केसे तय होती हैं या कितना होम लोन बैंक द्वारा हमें मिलेगा ! दरसल बैंकों और फाइनेंस कम्पनियों के अपने कुछ मापदंड होते हैं, जिसके आधार पर ही आपको एक निश्चित सीमा अर्थात टेन्योर के लिए होम लोन दिया जाता है! हर बैंक और फाइनेंस कम्पनी का एक अपना रुल या पालिसी होती हैं जो लोन देने की पात्रता निर्धारित करती हैं लेकिन मुख्य बात यह हैं की आपको व्यक्ति को कितना लोन मिलेगा, यह बात पर निर्भर करता है कि आपकी की ग्रौस सैलरी कितनी है!

उदाहरण के तौर पर समझे तो वेतनभोगी वर्ग अर्थात जॉब करने वाले लोगो को अपनी सालाना आय का 4 से 5  गुना तक होम लोन मिल सकता हैं ! जबकि चार्टर्ड अकाउंटैंट, डाक्टर जैसे पेशेवरों को सालाना आय का 7 गुना तक होम लोन मिल जाता हैं ! हालांकि होम लोन देते वक्त बैंक या वित्तीय संस्थान इस बात का विशेष ध्यान रखते हैं कि व्यक्ति की टेक होम सैलरी यानी के PF,बिमा आदि का पैसा काट के जो आपके खाते में सेलेरी आती हैं वो  40% से कम नही हो! इस के अलावा बैंक या वित्तीय कम्पनिया आपको होम लोन देने से पहले आपकी क्रैडिट रिपोर्ट पर भी अच्छे से गोर करती हैं! अगर लोन चुकाने का पुराना रिकौर्ड अच्छा नहीं हुआ तो आपको लोन मिलने में दिक्कत आनी स्वाभाविक हैं !लेकिन कुछ प्रायवेट फाइनेंस कंपनिया हैं जो कुछ हद तक खराब क्रेडिट स्कोर पर भी होम लोन दे देती हैं लेकिन उन फाइनेंस कम्पनियों की ब्याज दर सामान्य से थोड़ी ज्यादा होती हैं !


होम लोन पर आयकर लाभ

इनकम टेक्स बेनिफिट की बात करे तो होम लोन ले कर घर खरीदने के बहुत से फायदों में से 2 मुख्य फायदे हैं. पहला, यह हैं की घर की खुशी और दूसरा हैं की आपको होम लोन पे मिलने वाली आयकर में बचत. आपको बता दे की आयकर अधिनियम की धारा 80सी में होम लोन के मूलधन भुगतान के तहत नए बजट के अनुसार 1.5 लाख तक की छूट मिलती है! इस फायदे को पाने के लिए आपको बैंक या फाइनेंस कम्पनी से से स्टेटमैंट लेना जरूरी हैं! आयकर अधिनियम की धारा 24(बी) के तहत हाउसिंग लोन के ब्याज के पुनर्भुगतान पर भी 1,50,000 तक का डीडकशन मान्य होता हैं लेकिन ध्यान रहे इसकी मुख्य शर्त यह है कि घर का निर्माण या उस घर पर लोन लिए जाने वाला व्यक्ति लोन लिए जाने के 3 वर्षों के भीतर घर का कब्जा ले ले! अन्यथा ब्याज पर दी जाने वाली 1,50,000 की कटौती घट कर महज 30,000 हो जाएगी.!

अगर किसी ने घर की मरम्मत, पुनर्निर्माण या विस्तार के लिए लोन लिया है तो आप धारा 24(सी) के तहत ब्याज में लाभ मिलेगा. इस फायदे के अंतर्गत कटौती सीमा नए बजट के अनुसार 2 लाख तक निर्धारित हैं !


कैसे बढ़ा सकते हैं होम लोन की पात्रता

होम लोन के फायदे की बात चल रही हैं तो यदि आपको बैंक या फाइनेंस कम्पनी द्वारा ऑफर लोन अमाउंट कम लग रहा हैं तो आप होम लोन की अवधि बढ़ाकर ज्यादा लोन अमाउंट पा सकते हैं ! होम लोन में प्रति लाख रुपए पर मासिक किस्त लंबी अवधि के होम लोन के लिए काफी कम हो जाती हैं ! ऐसी स्थिति में बैंक उसी आय पर ज्यादा लोन दे देते हैं! होम लोन की पात्रता बढ़ाने का एक और तरीका यह भी है कि घर के अन्य सदस्य भी यदि कोई काम करता हैं तो उसे भी लोन में जोड़े ताकि उनकी आय और आपकी आय मिलकर आप  जौइंट लोन ले सकते हैं ! जॉइंट लोन में आपको बढे हुए होम लोन अमाउंट का फायदा मिल सकता हैं !जॉइंट लोन  में आप के अपने जीवनसाथी, अपने वयस्क हो चुके बच्चे, मातापिता या भाईबहन को शामिल कर सकते हैं ! और अगर आप एक मेरिड वुमेन हैं तप आप अपने सासससुर या अपने पति की आय को मिला कर जॉइंट होम लोन ले सकती है! 

इसके साथ ही यदि आप के पास मकान खरीदने के लिए डाउन पेमैंट देने का पैसा पर्याप्त नहीं हैं , तो आप को बड़ा लोन लेने का नहीं सोचना चाहिये इस से आप पर अधिक कर्ज का बोझ नहीं बढ़ेगा! 

होम लोन देते वक्त बैंक या फाइनेंस कम्पनी आपसे किसी पुराने रिपेमैंट यानि पहले लिए गए लोन के विषय में जानकारी मांग सकते हैं ! इसके लिए आप पूर्व में लिए गए लोन जैसे कार लोन,पर्सनल लोन या किसी भी लोन का प्रूफ बैंक को दे सकते हैं ! और अगर आप ने इस से पहले कोई लोन नहीं लिया है तो आप क्रैडिट कार्ड का  रिपेमैंट बता सकते हैं ! ये देखने के बाद यदि बैंक आप की रिपेमैंट करने की क्षमता के मामले में आश्वस्त है, तो आप के लोन लेने की पात्रता को बढ़ाया जा सकता है! इसके अलावा आप का मौजूदा बैंक खासतौर पर प्राइवेट बैंक जिस में आप का सेविंग खाता है, वह आप को अन्य बैंकों या हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों की तुलना में आप को ज्यादा लोन उपलब्ध करा सकता है!

वरिष्ठ नागरिकों को क्या हैं फायदा

वरिष्ठ नागरिको यानि सीनियर सिटिजन को होम लोन पर फायदों की बात करे तो आमतौर पर इनको को ज्यादा लंबी अवधि वाला लोन नहीं दिया जाता! उदाहरण के तौर पर समझे की अगर किसी व्यक्ति की उम्र अभी 60 साल है तो उसे ज्यादा से ज्यादा 5 साल तक का होम लोन ही दिया जा सकता हैं लेकिन ध्यान रहे यह समस्या भी जॉइंट होम लोन लेने से दूर की जा सकती हैं ! आपकी जानकारी के लिए बता दे की अगर कोई वरिष्ठ नागरिक या सीनियर सिटिजन किसी कम उम्र वाले के साथ मिल कर लोन के लिए आवेदन करता है तो उसे लंबी अवधि का लोन मिल सकता है!

सस्ता होम लोन कैसे मिलेगा ? 

अब बात करते हैं की आपको सस्ता होम लोन यानि कम ब्याज पर होम लोन केसे मिलेगा तो ध्यान रखे होम लोन लेने से पहले आपको कई बैंकों और हाउसिंग फाइनैंस कंपनियों की ब्याज दरों और शर्तों की जानकारी प्राप्त करना चाहिये! वैसे तो ज्यादातर बैंकों की यही कोशिश होती है कि वे आप के प्रोफाइल के अनुसार आपको होम लोन की सब से अच्छी दरों की पेशकश करें!

खासतौर पर जिन लोगों को तुरंत लोन की जरूरत होती हैं उन्हें तो बैंक या फाइनेंस कम्पनी अपनी ओर से सब से बेहतर कम ब्याज दरों पर लोन ऑफर करते ही हैं!साथ ही अगर आप के साथसाथ आप के कुछ मित्र या रिश्तेदार एक साथ होम लोन लेने का मन बना रहे हैं तो एक साथ आवेदन करना अच्छा होगा जिससे  बैंक को एक बड़ा लोन पोर्टफोलियो मिलता है! यह लोन लेने तरीका तब और कारगर साबित हो जाता हैं जब एक ही बिंल्डिंग में फ्लैट या अपार्टमैंट खरीदने के लिए सब लोन लेना चाहते हों! ऐसे मामलों में बैंकों के कानूनी और तकनीकी खर्च भी न के बराबर हो जाते हैं जिस का सीधा लाभ होम लोन लेने वालों को मिलता हैं! इसका मतलब ये हैं की बैंक या वित्तीय संस्था आपके होम लोन पर लगने वाले प्रक्रिया शुल्क या फीस को माफ़ कर सकता हैं ! अगर आप किसी अच्छे या बड़े बिल्डर से घर खरीद रहे हैं तो आप मंथली ऐंड ट्रिक के जरीए भी किफायती ब्याज दर पर लोन ले सकते हैं!

आवेदन करने से पहले क्रेडिट रिपोर्ट प्राप्त करे 


जहा तक क्रेडिट स्कोर को समझने का सवाल हैं तो  इन्फौर्मेशन ब्यूरो आफ इंडिया लिमिटेड यानी सिबिल से आप अपनी क्रैडिट रिपोर्ट सीधे मंगवा कर यह जान सकते हैं कि आप का क्रेडिट रिकॉर्ड और क्रेडिट स्कोर क्या है! साल में एक बार 470 खर्च कर सिबिल से आप क्रैडिट स्कोर मंगवा कर आप ये बेहतर तरीके से समझ जायेंगे की बैंक आपके क्रेडिट स्कोर या सिबिल रिपोर्ट को कैसे देखेगा!
अगर क्रैडिट रिपोर्ट में कोई गड़बड़ होती हैं जैसे आप ने क्रैडिट कार्ड के बिलों का भुगतान तो किया हुआ है, लेकिन रिपोर्ट में  बिल का भुगतान नहीं किया है ये दर्ज हैं तो इस कारण आप की क्रैडिट रिपोर्ट भी गड़बड़ हो गयी हैं तो आप भुगतान के सुबूतो के साथ संबंधित बैंक को बता सकते हैं साथ ही ऐसे सुबूतो  के साथ आप सीधे सिबिल से भी संपर्क करके अपनी क्रेडिट रिपोर्ट की सूचनाओ को सुधरवा सकते हैं!
खराब लोन रीपेमेंट रिकॉर्ड 
इसके बारे में बात करे तो अगर आप के पास क्रैडिट कार्ड है और काफी समय से आप ने उस की बकाया राशि का भुगतान नहीं किया है, तो यह आप के लोन लेने में समस्या खडी हो सकती हैं! इसके अलावा यदि आप ने पहले कोई पर्सनल लोन, औटो लोन आदि लिया था और उस की कुछ किस्तों जमा नहीं किया है तो आप को लोन मिलने में बहुत बड़ी परेशानी का सामना करना पड सकता हैं !
वास्तव में, सिबिल ब्यूरो के पास आपकी लोन रिकॉर्ड सम्बन्धी सारी सूचनाएं पहुंच जाती हैं,और इन जानकारियों का इस्तेमाल बैंक करते हैं! अगर बैंक आप के क्रैडिट कार्ड या पुराने लोन के रीपेमेंट के मामले में कोई खराबियो को देखते हैं तो लोन आवेदन को निरस्त कर दिया जाता हैं, इसलिए लोन लेने की पात्रता बढ़ाने के लिए जरूरी है कि आपको क्रैडिट कार्ड, टैलीफोन बिल, लोन की महीने की EMI आदि का भुगतान समय करना चाहिये !
महीने के अंत में करें लोन आवेदन मिलेगा यह फायदा !
लोन देने के लिए बैंकों और फाइनेंस कम्पनियों का महीने का टारगेट होता है!ऐसे में अगर आप महीने की 24 या 25  तारीख के बाद लोन के लिए आवेदन करते हैं तो आप को डिस्काउंट मिलने की ज्यादा संभावना हैं यहाँ हमारा कहने का मतलब यह है कि बैंकों और फाइनेंस कम्पनी की कोशिश होती है कि वे अपने हर महीने का लोन का टारगेट पूरा करें तो इस अवधि में बैंक आप को न केवल किफायती दर पर होम लोन उपलब्ध कराएगा बल्कि बढे हुए लोन अमाउंट को देने में भी राजी हो सकता हैं !
हमेंशा रखे अपनी क्रैडिट रेटिंग दुरुस्त
कोई भी बैंक अपने पुराने और नियमित ग्राहकों को कम ब्याज पर होम लोन उपलब्ध कराने की कोशिश करते हमेशा करते हैं !अगर आप भी बैंक के पुराने ग्राहकों में से हैं और आप का रिपेमैंट रिकॉर्ड उस बैंक के साथ अच्छा रहा है तो अन्य बैंक ग्राहकों के बजाये आप के लिए कम ब्याज पर लोन लेने संभावना ज्यादा होगी ! इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने क्रैडिट कार्ड बिल और बाकी लोन का भुगतान समय पर करते रहे ! इस से आप की न केवल आपके बैंक में क्रैडिट रेटिंग दुरुस्त होगी साथ ही आपको सस्ता होम लोन भी मिल सकेगा!


तो ये थे होम लोन के फायदों की बाते ! यदि आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे लाइक और शेयर करे ! और यदि आपके मन में लोन और फाइनेंस से जुडी हुई कोई भी क्वेरी हो तो हमें निचे कमेन्ट बॉक्स में जरुर बताये !साथ ही यदि आपको किसी प्रकार का लोन चाहिये तो डिस्क्रिप्शन में दी गयी लिंक पे सीधे जाकर आप लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं ! हमारे साथ जुड़े रहने के लिए धन्यवाद ! अगली बार नयी जानकारी के साथ फिर मिलेंगे ! धन्यवाद ! जय हिन्द! जय भारत !

SHARE

Manglesh Rao

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें