क्या कार लोन समय से पहले बंद कराना सही हैं ?


दोस्तों,पिछली आर्टिकलमें मैंने आपको बताया था की कार लोन बंद करने के पहले आपको कोन कोन सी बाते ध्यान में रखना जरुरी हैं ! लेकिन आज मैं आपको बताने वाला हूँ की क्या कार लोन समय से पहले बंद कराना सही हैं ! दोस्तों,आप जानते ही हैं की आज बैंक या फाइनेंस कंपनिया नयी और यूज्ड कार खरीदने के लिए आसानी से लोन देती हैं ! लेकिन इस कार लोन को समय से पहले चुकाने के नियम और चार्जेस हर बैंक और फाइनेंस कम्पनी में अलग अलग हैं ! 
अगर आप कार लोन के भुगतान के लिए थोड़ा या पूरा पैसा जमा करना चाहते हैं तो लगभग सभी बैंक और फाइनेंस कम्पनिया आप पर प्री-पेमेंट,फॉरक्लोज़र और पार्ट पेमेंट चार्ज लगाती हैं ऐसे में आपके लिए इनको समझने के साथ ही कार लोन समय से पहले चुकाए जाने के फायदों या नुकसान के बारे में भी समझना जरुरी हैं तो चलिए आज इन्ही चीजो को समझते हैं !

दोस्तों कार लोन के समय से पहले ही बंद कराने के फायदों या नुकसान से पहले आपको दो बाते अच्छे से पता होनी चाहिये !

एक हैं की बैंक या फाइनेंस कंपनी समय से पहले लोन बंद करने पर आपपर पेनेल्टी क्यों लगाती हैं !और दूसरी बात हैं की आपको प्री-पेमेंट और फॉर-क्लोज़र में अंतर को समझना जरुरी हैं !

पहले बात करते हैं की बैंक या फाइनेंस कंपनी आप पर समय से पहले लोन बंद करवाने के लिए पेनेल्टी या चार्जेस क्यों लेती हैं !तो दोस्तों,बैंक या फाइनेंस कम्पनी ने जिस अवधि के लिए लोन दिया हैं उससे पहले यदि आप लोन बंद कर देते हैं तो बैंक या फाइनेंस कम्पनी को ब्याज का नुकसान होता हैं ऐसे में वो फॉर-क्लोज़र या पार्टपेमेंट,प्री-पेमेंट चार्जेस के माध्यम से उस नुकसान की भरपाई करते हैं !

अब बात करते हैं कार लोन के प्री-पेमेंट और फॉरक्लोसर के अंतर की तो दोस्तों,अगर आपने 5 लाख का कार लोन 2 या तीन साल पहले लिया था और अब आप चाहते हैं की उस लोन में एक लाख की रकम एक मुश्त जमा कर दे जिससे की आपकी लोन अवधि या लोन पर लगने वाले ब्याज में कमी आये तो इसे प्री-पेमेंट या पार्टपेमेंट कहा जाता हैं !
इसी प्रकार यदि आप लोन का पूरा बकाया समय से पहले ही जमा करके लोन बंद कराना चाहते हैं तो उसे लोन फॉरक्लोसर कहा जाता हैं !

दोस्तों, इन बातो को लोन बंद करने से पहले ध्यान जरुर रखे अब बात करते हैं क्या आपका कार लोन समय से पहले बंद कराने का फैसला सही हैं ! यहाँ मैं आपको कुछ पॉइंट बताउंगा जिससे आप आसानी से समझ पायेंगे की समय से पहले कार लोन बंद कराना आपके लिए फायदेमंद हैं या नुकसानदायक !

कार लोन बंद कराने से पहले आपको जिन पॉइंट को ध्यान में रखना जरुरी हैं उसमे से पहला पॉइंट हैं – की अगर आपके पास एकमुश्त पैसा बोनस या किसी अन्य माध्यम से आता हैं तो आप इन पैसो का उपयोग किसी निवेश या इमरजेंसी फंड के रूप में कर सकते हैं ! ये तब और फायदेमंद होगा जब आपने यदि कार लोन कम ब्याज दर पर लिया हैं ! क्योकि हो सकता हैं इस निवेश का ब्याज कार लोन से ज्यादा हो ऐसे में आपको आर्थिक मजबूती मिल सकती हैं !

दुसरा पॉइंट हैं –पेनेल्टी चार्जेस को ध्यान में रखना – दोस्तों, बैंक या फाइनेंस कम्पनी में कार लोन समय से पहले बंद कराने से आप लम्बे समय के ब्याज से तो बच जाते हैं लेकिन पेनेल्टी और चार्जेस तो आपको चुकाना पड़ता हि हैं !जानकारी के लिए बता दे की आमतौर पर लोन लेने के 12 महीनो के बाद लोन बंद करा सकते हैं इसके बाद भी हो सकता हैं आपको 4 से 5 % लोन की बकाया राशि का पेनेल्टी के रूप में चार्ज चुकाना पड सकता हैं !





तीसरा पॉइंट हैं कार लोन ट्रान्सफर के विषय में जरुर सोचे – दोस्तों,यदि आपका वर्तमान कार लोन महंगे ब्याज पर चल रहा हैं और आप इसी कारण से इसे समय से पहले बंद करवाना चाहते हैं तो कार लोन ट्रांसफर आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता हैं ! आज बहुत सी बैंक या फाइनेंस कम्पनी आपको आपके चल रहे कार लोन को कम ब्याज पर टेकओवर करती हैं ऐसे में आप कार लोन ट्रान्सफर के माध्यम से कम ब्याज का फायदा उठा सकते हैं !

चौथा पॉइंट ध्यान में रखे की शुरवात में इसे बंद करे दोस्तों यदि आपने कार लोन शुरवात में ही बंद करने का निर्णय लिया हैं तो मेरे हिसाब से आप सही हैं इससे आप लगने वाले ज्यादा ब्याज से बच सकते हैं लेकिन आपको थोडा पैसा पेनेल्टी चार्जेस में जरुर भरना पड़ सकता हैं !

कार लोन को समय से पहले बंद करने के नुकसान का सबसे आखरी और महत्वपूर्ण पॉइंट हैं – इसका आपके क्रेडिट स्कोर पर असर – जी हां दोस्तों अगर आप कार लोन का समय से पहले भुगतान करते हैं तो इसका खराब असर आपके क्रेडिट स्क्रोर पर भी पड़ता हैं ! क्योकि यदि आप कार लोन के चलते नियमित किश्ते जमा करते रहते हैं तो आपका क्रेडिट स्कोर मजबूत होता चला जाता हैं वही यदि आप इसे बंद कर देते हैं तो आपके क्रेडिट स्कोर का इम्प्रूवमेंट रुक जाता हैं !

तो दोस्तों कार लोन समय से पहले बंद कराने से पहले इन पांच महत्वपूर्ण पॉइंट पर जरुर विचार करे हो सकता हैं आपका निर्णय गलत हो !




SHARE

Manglesh Rao

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें