Recent Comments

CIBIL Score : सिबिल स्कोर कैसे कैलक्यूलेट होता हैं | How to Calculate CIBIL Score in Hindi

CIBIL Score : सिबिल कैसे कैलक्यूलेट होता हैं |  How to Calculate CIBIL Score in Hindi | CIBIL score calculation | Credit score kaise check kare | how is your credit score calculated | Credit Score fact in Hindi | CIBIL Score Tips in Hindi | Cibil score kaise sudhare | Important Fact of CIBIL Report Hindi

Credit, Report, Score, Bank, Banking, Loan, Mortgage
बैंक या फाइनेंस कम्पनी से आपको लोन मिलेगा या नहीं ये कुछ हद तक आपके सिबिल स्कोर पर निर्धारति होता हैं ! ऐसे में दोस्तों ये आपको पता होना जरुरी हैं की सिबिल स्कोर का केल्क्युलेशन कैसे किया जाता हैं ! वेसे तो सिबिल स्कोर को केल्क्युलेट करना कई बातो पर निर्भर करता हैं लेकिन इसमें सबसे मुख्य बात हैं आपका रीपेमेंट करने का तरिका ! इसका सीधा सा मतलब ये हैं की अगर आप लोन चुकाने में इमानदार हैं ! तो बैंक या फाइनेंस कम्पनी आपको आसानी से लोन दे सकती हैं ! आज के इस आर्टिकल में हम सिबिल केल्क्युलेशन के बारे में बात करेंगे और जानेंगे की बैंक या फाइनेंस कम्पनी किन आधार पर आपके सिबिल स्कोर की रेटिंग करती हैं ! इसके अलावा आज ये भी जानने की कोशिश करेंगे की कैसे आप सिबिल स्कोर को बेहतर बनाये रख सकते हैं, तो बने रहिये हमारे साथ आखरी तक और हां अगर आप हमारे ब्लॉग पर पहली बार आये हैं तो प्लीज इस ब्लॉग को सबस्क्राइब कर दे ताकि आपको भी लोन और फाइनेंस से जुडी जानकारी सबसे पहले मिलती रहे ! 

दोस्तों सिबिल के केल्क्युलेषन को समझने से पहले आपको समझना होगा की आखिर सिबिल स्कोर हैं क्या ? दोस्तों, वेसे तो आज हर आदमी सिबिल स्कोर को अच्छे से जानता हैं लेकिन बारीकी और सासान शब्दों में समझे तो सिबिल एक तीन अंको का स्कोर होता हैं ! जो 300 से 900 के बिच होकर आपकी क्रेडिट हिस्ट्री के आधार पर तय होता हैं ! आपके हर तरह के लोन की जानकारियों पर आधारित एक रिपोर्ट को सिबिल रिपोर्ट कहा जाता हैं ! सिबिल स्कोर आपके लोन लेने की एलेजीबिलिटी को दर्शाता हैं इसका साफ़ मतलब ये हैं की आपका सिबिल स्कोर जीतना अच्छा होगा आपको लोन मिलने के चांसेस उतने बढ़ जायेंगे !

अब जानते हैं की सिबिल स्कोर केल्क्युलेट कैसे किया जाता हैं ? या वे कोनसी बाते हैं जो आपके सिबिल को प्रभावित करती हैं ! जिससे की आपके सिबिल स्कोर का आंकलन होता हैं ! तो दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दे की 4 बाते हैं जो आपके सिबिल स्कोर पर असर डालती हैं !

पेमेंट हिस्ट्री 
दोस्तों, आप जिस भी लोन का भुगतान किश्त के रूप में करते हैं उसे पेमेंट हिस्ट्री में शामिल किया जाता हैं तथा देर से भुगतान करना या न करना आपकी पेमेंट हिस्ट्री खराब करता हैं जिसका असर आपके क्रेडिट स्कोर पर पढ़ता हैं और आपका क्रेडिट स्कोर कम होता जाता हैं !

क्रेडिट मिक्स
इसका मतलब हैं की आपने किस प्रकार के लोन ले रखे हैं ! सामन्यत: मिले जुले लोन जिसमे सिक्योर और अन-सिक्योर दोनों तरह के लोन शामिल हैं का आपके सिबिल स्कोर पर बहुत अच्छा असर पड़ता हैं और आपका सिबिल स्कोर बढ़ता हैं !

बार बार पूछताछ
दोस्तों अगर आप लोन के लिए बार बार आवेदन कर रहे हैं या बार बार पूछताछ कर रहे हैं तो सिबिल की भाषा में इसे इंक्वायरी कहा जाता हैं और ये एक गंभीर असर आपके सिबिल स्कोर पर दर्शाता हैं ! इससे आपका सिबिल स्कोर न केवल कम होता हैं बल्कि आपको लोन मिलने की संभावना को भी कम करता हैं !

हाई क्रेडिट यूटीलाइजेशन
दोस्तों अगर आप क्रेडिट कार्ड या बैंक क्रेडिट लिमिट का इस्तेमाल करते हैं और आप उपलब्ध क्रेडिट लिमिट का अत्यधिक उपयोग करते हैं तो यह आपके सिबिल स्कोर के लिए घातक हो सकता हैं और इससे आपके सिबिल स्कोर में तेजी से कमी आती हैं !

तो दोस्तों ये 4 पॉइंट हे जो आपके क्रेडिट स्कोर को तय करते हैं ! अब बात आती हैं की कैसे आप अपने सिबिल स्कोर को बेहतर बनाए रख सकते हैं !तो दोस्तों अगर आप चाहते हैं की आपका सिबिल स्कोर हमेशा मजबूत बना रहे तो आपको 5 छोटी छोटी बातो का ध्यान रखना जरुरी हैं !

पहली – अपने सभी क्रेडिट कार्ड के बिलों का भुगतान समय से करे क्योकि  ऐसा न करना आपके सिबिल स्कोर के लिए खराब हो सकता हैं !

दूसरी बात – क्रेडिट कार्य या बैंक क्रेडिट लिमिट का उपयोग सिमित तौर पर करे ! क्योकि ज्यादा खर्च आपके सिबिल स्कोर को बिगाड़ सकते हैं !

तीसरी बात – होम लोन या कार लोन जेसे सिक्योर लोन या पर्सनल लोन या क्रेडिट कार्ड जैसे अनसिक्योर लोन में संतुलन बनाए रखे ज्यादा अनसिक्योर लोन आपके सिबिल स्कोर पर गलत प्रभाव डालते हैं !

चौथी बात जो आपको ध्यान में रखना जरुरी हैं – वो हैं यदि आपने जॉइंट लोन लिया हैं तो जॉइंट होल्डर का ध्यान रखे की वो नियमित भुगतान कर रहा हैं या नहीं ! क्योकि ऐसी लापरवाही भी आपके सिबिल स्कोर पे असर डाल सकती हैं !

पांचवी और आखरी बात -  क्रेडिट हिस्ट्री की समीक्षा – दोस्तों आपको अपनी क्रेडिट रिपोर्ट की समय समय पर जांच करते रहना चाहिये ! इससे आपके क्रेडिट स्कोर की जानकारी आपको मिलती रहेगी आज भारत में बहुत सी वेबसाईट फ्री में सिबिल स्कोर आपको प्रोवाइड करती हैं आप उनका उपयोग कर सकते हैं साथ ही अगर आप चाहते हैं की आपको फ्री में सिबिल स्कोर चाहिये तो इस लिंक पर जाकर फ्री में अपनी क्रेडिट रिपोर्ट निकलवा सकते हैं ! इसके अलावा अगर आपका सिबिल स्कोर से जुडा कोई सवाल हैं तो आप हमें कमेंट्स करके पूछ सकते हैं !

तो दोस्तों ये थी जानकारी सिबिल स्कोर से जुडी हुई ! दोस्तों हो सकता हैं आपके किसी दोस्त या रिश्तेदार को इस जाकारी की जरुरत हो तो उनसे ये जानकारी शेयर करके आप उनकी मदद कर सकते हैं साथ ही अगर आपको ये जानकारी पसंद आयी हैं तो इसे लाइक करके बता सकते हैं !!! वेसे दोस्तों मेने बहुत से आर्टिकल सिबिल स्कोर को लिखे हैं ! आप उन्हें भी देख सकते हैं ! इसके अलावा यदि आपका सिबिल स्कोर बिगड़ा हुआ हैं तो उसे सुधारने के टिप्स भी आपको हमारी वेबसाईट या यूट्यूबचेनल पर मिल जायेंगे ! अगली बार फिर ऐसी ही किसी जानकारी के साथ मिलाकात होगी तब तक के लिए जय हिन्द !! जय भारत !!! 

SHARE

Manglesh Rao

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें