पुराना Loan चुका देने के बाद भी Loan नहीं मिल पा रहा? जानिये क्यों | ON BAD CREDIT SCORE


पुराना Loan चुका देने के बाद भी Loan नहीं मिल पा रहा? जानिये क्यों | ON BAD CREDIT SCORE 

cibil score kaise badhaye in hindi,how to improve cibil score in hindi,loan ke liye cibil score kitna hona chahiye,cibil score kaise thik kare,cibil score meaning in hindi,credit card ke liye cibil score kitna hona chahiye

लगभग सभी को ये पूर्ण जानकारी हैं की यदि क्रेडिट स्कोर खराब होने के कारण  कोई भी बैंक लोन नहीं देती!और यदि क्रेडिट स्कोर खराब भी हैं तो कुछ गिने चुने प्रायवेट संस्थान लोन तो दे देते हैं लेकिन आपसे ब्याज बहुत ज्यादा वसूलते हैं! विषय के परिप्रेक्ष में कई बार एसा भी होता हैं की आपने पुराने लोन अथवा क्रेडिट कार्ड का बकाया भुगतान तो कर दिया हैं किन्तु इसके बाद भी बैंक क्रेडिट स्कोर का बोलकर नया लोन देने से साफ़ इनकार करते हैं! तो इस स्थिति में क्या करना होता हैं इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इस लेख में मिल सकती हैं साथ ही क्रेडिट स्कोर को केसे सुधारा जाए  उसकी भी जानकारी आपको हो जायेगी!

कहा हो जाती हैं अक्सर गलती और खामियाजा पड़ता हैं भुगतना

कई केसों में देखने में आया हैं की पुराना लोन अथवा क्रेडिट कार्ड का बकाया पेमेंट करने वाला यह सोचता रहता हैं की किसी और बेंक या वित्तीय संस्थानों को उसके डिफाल्ट की जानकारी नहीं होगी किन्तु असलियत यह हैं की कोई भी बैंक या फायनेन्स कंपनी आपके पुराने लोन अथवा कोई भी क्रेडिट हिस्ट्री  को आसानी से देख सकती हैं! उदहारण के लिए समझे की आपने किसी ऋण/कार्ड का पुनर्भुगतान 6 माह तक नहीं चुकाया और उसके बाद आपने एक साथ बकाया राशी भर के सेटेलमेंट कर लिया या एक साथ जमा कर दिया अब अगर बैंक अथवा कम्पनी ने आपकी सिबिल/हाईमार्क जेसी एजेंसी को आपके भुगतान का अपडेशन नहीं किया तो निश्चित आपको नए लोन लेने में दिक्कतों का सामना करना पड सकता हैं!

सेटेलमेंट/पूरा पैसा जमा करने के बावजूद नहीं मिलता लोन क्यों?

लोन के लिए आवेदन करने के बाद बैंक या फाइनेंस कम्पनी आपकी क्रेडिट रिपोर्ट देखते हैं। 
आपने पूर्व के लोन किस हिसाब से चुकाए हैं ! 
पेमेंट का भुगतान किस प्रकार किया गया हैं ?
आपने गलत तरीके से भुगतान किया हैं या प्रतेक माह की भुगतान तारीख के बाद आपने अपनी किश्त भरी हैं !या 1-2 अथवा अधिक महीने लेट पेमेंट किया हैं तो बेंक या कम्पनी इसे एप्लीकेशन को जोखिम मानती हैं और नया ऋण देने में कतराती हैं!
यदि कोई नया लोन लेना हो तो अपना क्रेडिट स्‍कोर सुधारने के लिए  कुछ तरीको को अपनाया जा सकता हैं ! इसके लिए बैंकों के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट, शेयर, या एंडोमेंट पॉलिसी को गिरवी रख कर लोन लीजिए। डिफॉल्‍टरों के लिए लोन  के ये विकल्‍प हमेशा खुले रहते हैं। इससे क्रेडिट स्‍कोर  में काफी तेजी से सुधार होगा। किन्तु आपका डिफाल्ट लोन का रेपेमेंट हिस्ट्री उसी प्रकार रहेगी जिस प्रकार आपने उसे चुकाया हैं!किन्तु नए लोन के नियमित भुगतान को देखकर आपको आसानी से ऋण मिलने की संभावना होती हैं!

किनता टाइम लगेगा क्रेडिट स्कोर सुधरने में ?

क्रेडिट स्‍कोर सुधरने में साधारण रूप से दो या तीन साल लगते हैं । इसके बाद ही आप बैंकों से आसानी से लोन ले सकेंगे। अचानक से क्रेडिट स्‍कोर में सुधार  लाने का कोइ रास्ता नहीं है।

यदि डिफाल्ट नहीं किया फिर भी खराब हे स्कोर तो?

कई बार ऐसा भी होता हैं की आपने तो नियमित भुगतान किया हैं किन्तु कम्पनी की त्रुटीवश आपका Credit Score खराब हो गया!अथवा किसी और द्वारा लिया गया ऋण आपके रिपोर्ट स्कोर में बता रहा हैं जो की खराब हैं! हलाकि इसकी संभावना कम होती हैं फिर भी यदि इस प्रकार की समस्या से आपका पाला पड़ा हैं तो आप सीधे ऋण प्रदाता कम्पनी को इसमें सुधारने की शिकायत करे अथवा सिबिल सस्था के माध्यम से विवाद दायर करे!

No comments:

Powered by Blogger.