FIN-INFO

PERSONAL LOAN | HOME LOAN | BUSINESS LOAN | CREDIT SCORE | CREDIT CARD | ALL INFO IN HINDI

खराब क्रेडिट स्कोर पे लोन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
खराब क्रेडिट स्कोर पे लोन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 4 अक्तूबर 2019

क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये | How to Improve Credit Score In HINDI



क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये | How to Improve Credit Score In HINDI

क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये, क्रेडिट स्कोर को कैसे बढ़ाये, how to improve credit score in hindi, how to improve credit score, how to improve cibil score, how to improve credit score india, how to improve credit score fast


आज आपको घर लेना हो या कोई गाडी, कोई महंगा मोबाइल लेना हो या कोई महंगी यात्रा पे जाना हो लगभग ऐसे हर काम जिसमे आपको ज्यादा पैसा लगता हैं उसके खर्चो को आसान करने के लिए आज हर तरह का लोन मौजूद हैं ! लेकिन इस बढ़ते हुए लोन की उपलब्धता के बिच सबसे महत्वपूर्ण हैं क्रेडिट स्कोर  ! आज क्रेडिट स्कोर का महत्व बहुत ज्यादा बढ़ चुका हैं आज लोन की हर शर्त जैसे उसका ब्याज,उसकी राशि,लोन की सिक्युरिटी आदि सभी आपके अच्छे क्रेडिट स्कोर पर निर्भर करती हैं ! ये आपका अच्छा क्रेडिट स्कोर ही हैं जो निर्धारित करता हैं की आपको लोन मिलेगा या नहीं और मिलेगा तो कितना ब्याज आपको देना पड़ेगा और यदि आपका खराब क्रेडिट स्कोर  हैं तो हो सकता हैं आपको ज्यादा ब्याज देना पड़े या ये भी हो सकता हैं की आपको लोन न मिले ! असल में कहा जाए तो लोन मिलने से लेकर उसकी सभी शर्ते आपके अच्छे क्रेडिट स्कोर  पर निर्भर करती हैं ! 

आपकी जानकारी के लिए बता दे की क्रेडिट स्कोर 300 से लेकर 900 के बिच होता हैं  तीन अंको के इस स्कोर में जिनका 750 पॉइंट से स्कोर ज्यादा होता हैं वो अच्छा क्रेडिट स्कोर माना जाता हैं और जिनका इससे कम होता हैं उनका खराब क्रेडिट स्कोर  माना जाता हैं !

अच्छे क्रेडिट स्कोर और खराब क्रेडिट स्कोर के बिच उतना ही बुनियादी अंतर होता हैं जितना इन दोनों शब्दों यानी अच्छे और बुरे में होता हैं ! एक अच्छा क्रेडिट स्कोर जहा आपको आसानी से लोन उपलब्ध करा सकता हैं वही खराब क्रेडिट स्कोर के चलते आपको लोन मिलने में समस्या आ सकती हैं तो ऐसे कौनसे टिप्स हैं जिनकी मदद से आप अपना खराब क्रेडिट स्कोर सुधार सकते हैं ! या वो टिप्स जिससे आप आपका क्रेडिट स्कोर मजबूत बनाए रख सकते हैं !


क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये, क्रेडिट स्कोर को कैसे बढ़ाये, how to improve credit score in hindi, how to improve credit score, how to improve cibil score, how to improve credit score india, how to improve credit score fast

फिक्स इनकम ऑब्लिगेशन 


हर व्यक्ति के अपने अपने महीने के फिक्स खर्चे होते हैं जिनसे वो घर चलता हैं, और लोन आपकी इनकम में से खर्चे घटा के बचने वाली आय पर निर्धारित होता हैं ! इन फिक्स खर्चो को लोन लेने के लिए 50% माना जता हैं ! इसको आसानी से समझा जाए तो यदि आपकी इनकम 20 हजार रूपये हैं तो आप केवल 10 हजार तक की ही किश्त का भुगतान कर सकते हैं ! क्रेडिट स्कोर सुधार करने के लिए  ध्यान रखे की कभी भी अपने फिक्स इनकम के ऑब्लिगेशन को घटाकर जितनी राशि बनती हैं उससे ज्यादा की किश्त न बनवाये ! इससे आपको आर्थिक स्थिति के संतुलन में परेशानी आएगी और आपकी लोन की किश्त मिस होगी और इसका असर आपके क्रेडिट स्कोर  पर पड़ेगा !

यह भी पढ़े -  पुराना Loan चुका देने के बाद भी Loan नहीं मिल पा रहा? जानिये क्यों?

भुगतान की तारीख 

खराब क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाने के लिए हमेशा याद रखे की आपके जो भी लोन चल रहे हैं या जो भी क्रेडिट कार्ड के भुगतान आप करते हैं उनकी भुगतान तारीख आपको हमेशा याद होना चाहिये और साथ ही उन तारीख पर आपको कभी भी लोन की किश्तों का या क्रेडिट कार्ड के बिल्स का भुगतान चूकना नहीं चाहिये ! अगर आप हमेशा या बार बार भुगतान की तारीखों पर किश्तों या बिलों का भुगतान नहीं करते तो आपका क्रेडिट स्कोर खराब होता चला जाता हैं ! अगर आप अभी तक इसी पद्धति से किश्तों या बिलों का भुगतान कर रहे हैं तो अभी से इसमें सुधार कर ले ! निश्चित मानिए की धीरे धीरे आपका क्रेडिट स्कोर सुधरने लगेगा  संभव हैं की 8 महीनो से लगाकर 1 साल में आपके क्रेडिट स्कोर में सुधार  हो जाएगा !


लोन का सेटेलमेंट 

आपके क्रेडिट स्कोए में सभी बातो का उल्लेख होता हैं मसलन आपने कितने लोन लिए हैं उन लोन का आपने कैसे भुगतान किया हैं साथ ही इस बात का भी उल्लेख होता हैं की आपने किसी लोन को पूरी तरीके से बंद किया हैं या उसका सेटेलमेंट किया हैं ! ऐसे में यदि आपने पिछले कुछ लोन का सिर्फ सेटेलमेंट किया हैं तो नया लोन मिलने में आपको समस्या आ सकती हैं क्योकि सेतेलेमेंट को बैंक और फाइनेंस कम्पनी ठीक नहीं मानती हैं इसलिए आप यदि किसी लोन को बंद करना चाह रहे हैं तो उसके सम्पूर्ण बकाया को ख़त्म करे न की लोन सेटेलमेंट  करके उस लोन को ख़त्म किया जाये ! क्योकि सेटेलमेंट किये गए लोन आपकी क्रेडिट रिपोर्ट में सेटेलमेंट फ्लेग  ही करेगा वो क्लोज स्टेट्स में नहीं होगा ! तो अगर आप कोई लोन बंद करना चाह रहे हैं तो उसे पूरी तरह से बंद करे बजाये सेटेलमेंट करने के इससे आपके क्रेडिट स्कोर को सुधारने में  सहायता मिलेगी ! 

क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये, क्रेडिट स्कोर को कैसे बढ़ाये, how to improve credit score in hindi, how to improve credit score, how to improve cibil score, how to improve credit score india, how to improve credit score fast

क्रेडिट रिपोर्ट की गलतियों का ध्यान 


बहुत से लोगो की मेरे पास क्वेरी आती हैं की कोई लोन हमने नहीं लिया फिर भी वो हमारी क्रेडिट रिपोर्ट में दिख रहा हैं  और उस लोन के अनियमित भुगतान के कारण हमारा क्रेडिट स्कोर खराब हो गया हैं ! इसे रिपोर्ट में वेरिएशन कहा जता हैं ! इसलिए आपको चाहिये की आप समय समय पे अपनी क्रेडिट रिपोर्ट चेक करते रहे और किसी प्रकार की गलती पायी जाने पर उसका क्रेडिट ब्यूरो को सिबिल डिस्प्यूट  भेजे ! अगर अनचाहे लोन की वजह से आपका क्रेडिट स्कोर खराब हो रहा हैं  तो याद रखे एक बार क्रेडिट स्कोर के खराब हो जाने पर  उसमे सुधार कर पाना आपके लिए मुश्किल हो सकता हैं ! 

उपयोगी लिंक 

क्रेडिट लिमिट का उपयोग 

खराब क्रेडिट स्कोर का सबसे बड़ा कारण हैं की असंतुलित तरीके से क्रेडिट कार्ड लिमिट का उपयोग किया जाना ! दोस्तों हर क्रेडिट कार्ड पर हमें एक लिमिट दी जाती हैं उस लिमिट का हम कितना उपयोग करे हैं उसपे भी ये निर्धारित होता हैं की आपका क्रेडिट स्कोर बिगड़ेगा  या सुधरेगा ! अगर आप महीने में अपनी क्रेडिट लिमिट का सिर्फ 40% तक का उपयोग करते हैं तो ये आपके क्रेडिट स्कोर के लिए अच्छा होता हैं ! उदाहरण के लिए समझे की अगर आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट 10000 रूपये हैं और आप 4000 रूपये से ज्यादा हर महीने यूज करते हैं तो ये खराब क्रेडिट स्कोर का संकेत हैं इससे आपका क्रेडिट स्कोर बिगड़ता चला जाएगा इसलिए इस आदत को जल्द से जल्द सुधारे और अपने क्रेडिट कार्ड के खर्चो को संतुलित करे ! 


क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये, क्रेडिट स्कोर को कैसे बढ़ाये, how to improve credit score in hindi, how to improve credit score, how to improve cibil score, how to improve credit score india, how to improve credit score fast

शून्य क्रेडिट हिस्ट्री 

कई लोगो ने पहले कभी भी लोन नहीं लिया होता हैं ऐसे में उन लोगो की धारणा होती हैं की उनको आसानी से लोन मिल सकता हैं लेकिन यहाँ ध्यान रखे यदि आपका क्रेडिट स्कोर शून्य हैं  तो आपको लोन मिलने में समस्या आसक्ति हैं ! शून्य क्रेडिट स्कोर या मायनस क्रेडिट स्कोर का मतलब  ये हैं की बैंक इस असमंजस में हैं की आपको लोन देना सही हैं या नहीं ! तो ऐसे में तभी लोन संभव होता हैं जब आपकी आय का स्थायी सोर्स मौझुद हो इसके अलावा यदि लोन स्कयोर हैं तो भी आपको लोन मिलने के चांसेस हो सकते हैं ! तो ध्यान रखे कोशिश करे की आपका कोई लोन या क्रेडिट कार्ड हमेशा चलता रहे भले ही आप उसका सिमित उपयोग करते हो लेकिन ऐसा करने से आपके क्रेडिट स्कोर में सुधार होता हैं !

क्रेडिट लिमिट इनक्रीज करवाना 

कई बार देखने में आता हैं की लोग बार बार अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट को इनक्रीज करते रहते हैं इससे उनके क्रेडिट कार्ड के संचालन की अनियमितता देखने को मिलती हैं ! ऐसा करने से जहा एक और आपके ऊपर क्रेडिट लिमिट का बोझ बढेगा वही आपको ये भी ध्यान रखना होगा की बढ़ी हुई लिमिट के भुगतान की जवाबदारी भी आप ही की होती हैं ऐसे में यदि ज्यादा क्रेडिट लिमिट होगी तो खर्चे भी ज्यादा होंगे और उन खर्चो के भुगतान का भार भी ज्यादा ऐसा होने पे संभव हैं की आप किसी महीने क्रेडिट ड्यू का भुगतान न कर पाए और ऐसा करने पे आपका क्रेडिट स्कोर खराब हो जाये !


क्रेडिट स्कोर कैसे बढ़ाये, क्रेडिट स्कोर को कैसे बढ़ाये, how to improve credit score in hindi, how to improve credit score, how to improve cibil score, how to improve credit score india, how to improve credit score fast



लोन आवेदन करते समय 

किसी भी तरह का लोन आवेदन करते समय अपना क्रेडिट स्कोर चेक जरुर करे ताकि आपको ये ध्यान रहे की आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा हैं या आपका क्रेडिट स्कोर खराब हैं ! अच्छे क्रेडिट स्कोर की मदद  से आप बैंक से कम ब्याज दर, सिक्युरिटी आदि मुद्दों के साथ ही साथ प्रक्रिया शुल्क में रियायत पा सकते हैं !


तो दोस्तों ये थी जानकारी खराब क्रेडिट स्कोर को कैसे सुधारे  से सम्बंधित ! यदि आपका भी क्रेडिट स्कोर बिगड़ा हुआ हैं  तो आप इस जानकारी की मदद से और इन टिप्स को फोलो करके अपने बिगड़े क्रेडिट स्कोर को सुधार सकते हैं ! दोस्तों हो सकता हैं आपके किसी दोस्त या रिश्तेदार का भी सिबिल या क्रेडिट स्कोर बिगड़ा हुआ हो तो इन टिप्स को उन्हें व्हाट्सएप करके शेयर कर दीजिये जिनसे उनके भी क्रेडिट स्कोर सुधरने के चांसेस बढ़ जाये ! इसके अलावा यदि खराब क्रेडिट स्कोर को सुधारने को लेकर  आपके मन में कोई भी सवाल हैं तो हमें कमेंट्स करे ! उम्मीद करता हूँ आपको ये जानकारी जरुर पसंद आयी होगी और अगर हाँ तो ब्लॉग को लाइक और सबस्क्राइब जरुर करे क्योकि ऐसे ही आर्टिकल मैं आपके लिए लाता रहता हूँ ! हमारे साथ बने रहने के लिए धन्यवाद 

सोमवार, 13 मई 2019

सिबिल खराब हैं और P2P Loan ले रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रख ले!

सिबिल खराब हैं और P2P Loan ले रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रख ले!

सिबिल खराब हैं और P2P Loan ले रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रख ले!  

दोस्तों मैंने दो आर्टिकल पीयर टू पीयर लेंडिंग पे लिखे हैं ! पहले आर्टिकल में मैंने आपको बताया था की आखिर पीयर टू पीयर लेंडिंग क्या हैं ! दुसरे आर्टिकल में मैंने आपको बताया था की कौनसी वेबसाईट पी2पी लोन देने का काम करती हैं ! अगर आपने वो आर्टिकल नहीं पढ़े  तो पहले आप उसे पढ़िए और आपने दोनों आर्टिकल देख लिए हैं तो क्या लोन लेने के लिए आप पीयर-टू-पीयर (पी2पी) प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन की तैयारी कर रहे हैं? अगर हां तो कुछ चीजों को आपके लिए जान लेना जरुरी होगा!

पी2पी प्लेटफॉर्म पर खुद को लिस्ट कराने से पहले आपको इन 4सवालों का जवाब जरूर तलाशने के साथ ही साथ इन 4 बातो का ध्यान भी रखना जरुरी हैं ! क्योकि इन 4 सवालो के बारे में आपने नहीं जाना तो हो सकता हैं आप धोखा खा जाए ! आज की इस आर्टिकल में मैं आपसे चार ऐसी बातो पर बात करने वाला हूँ जो आपको पी2पी लोन के लिए आवेदन करने से पहले ध्यान रखना जरुरी हैं !

दोस्तों पी2पी प्लेटफॉर्म की इन 4 बातो के ध्यान रखने की जानकारी देने से पहले मेरी आप सभी लोगो से रिक्वेस्ट हैं की अगर आप हमारे ब्लॉग पर पहली बार आये हैं तो प्लीज इसे सबस्क्राइब कर दे ताकि ऐसी ही इन्फोर्मेंटीव जानकारी आपको सबसे पहले मिलती रहे !

दोस्तों पी2पी प्लेटफॉर्म पे लोन का आवेदन करने से पहले आपको सबसे पहला सवाल ध्यान में रखना जरुरी हैं कि,क्या जिस पी2पी प्लेटफॉर्मपर आप आवेदन कर रहे हैं वो प्लेटफोर्म आरबीआई यानी रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया से पंजीकृत है? 

दोस्तों किसी भी पी2पी प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर करने के लिए यह आपका पहला सवाल होना चाहिए! वैसे तो आज देश में बहुत सेआनलाइन लेंडिंग प्लेटफॉर्म या ऑनलाइन लोन देने वाले प्लेटफोर्म हैं जो आपको तुरंत लोन देने की पेशकश करते हैं,किन्तु, उन वेबसाईट या प्लेटफोर्म में से कुछ को ही वास्तव में आरबीआई से एनबीएफसी-पी2पी रजिस्ट्रेशन प्राप्त होता है!  दोस्तों इसीलिए आपको ध्यान रखना चाहिये की केवलआरबीआई द्वारा रजिस्टर्ड प्लेटफॉर्म या वेबसाईट से हीलोन के लिए आवेदन करना चाहिये या लोन लेना चाहिए

दुसरा सवाल जो पी2पी प्लेटफॉर्म से लोन लेने के पहले आपको ध्यान रखना चाहिये वो हैं के क्या कोई अतिरिक्त फीस या हिडन चार्जेज आपके लोन में जुडा है? 

दोस्तों आपको अतिरिक्त शुल्कों का भी पता कर लेना चाहिए!क्योकि इन्हें प्लेटफॉर्म बाद में चार्ज कर सकता है! इस चार्ज के ब्याज में जुड़ जाने के बाद यह आपके लोन पर दिए जाने वाले कुल ब्याज को बढ़ा देता है. इस पर आपको विशेषनजर रखनी चाहिए कि कहीं लोन को समय से पहले चुकाने पर कोई प्रीपेमेंट चार्ज तो नहीं वसूला जाएगा! ज्यादातर लोन लेने वालो को मामूली रजिस्ट्रेशन फीस, प्रोसेसिंग फीस देनी पड़ती है! तो ध्यान रखे की आपको सभी चार्ज घटाने के बाद अंतिम रकम का अनुमान जरूर होना चाहिए!

तीसरा और महत्वपूर्ण सवाल आपको ध्यान में रखना जरुरी हैं की लिए जाने वाले लोन परलगने वाली ब्याज दर क्या होगी?

दोस्तों लोन एग्रीमेंट को फाइनल करने से पहलेआपको ब्याज दर के बारे में साफ पता कर लेंना चाहिये! किश्तों की रकम और दूसरी पेनाल्टी जैसी बातों के बारे में खुलकर पूछना चाहिए!आपको इसमें किसी भी तरह का संकोच नहीं नहीं करना चाहिये ! क्योकि आरबीआई के नियमों के अनुसार, अगर निर्धारित तिथि के 90 दिनों के भीतर किश्त को नहीं चुकाया जाता है तो उसे डिफॉल्ट माना जाता है! लोन लेने वालो के लिए कंपनियां अलग-अलग ग्रेस पीरियड तय कर सकती हैंइसकी पूरी जानकारी लेने के बाद ही आपको यहाँ से लोन लेना चाहिये !

चौथा और आखरी सवाल आपको ध्यान में रखना जरुरी हैं कि,लोन मिलने में समय कितना लगेगा?

दोस्तों आपके लिए सबसे जरूरी बात यह होती है कि लोन कब तक मिलेगा? आपको सुनिश्चितकरना चाहिये  कि आप लोन के लिए सही समय पर आवेदन कर रहे हैं ! इससे आपको समय से लोन मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा! हालांकि, पी2पी प्लेटफॉर्म कितनी आपका लोन कितनी जल्दी मंजूर करेगा यह बात भी बहुत महत्वपूर्ण है! दोस्तों यह बात तब और भी जरूरी हो जाती है अगर आप इमर्जेंसी जरूरत के लिए लोन ले रहे हैं तो जब भी आप यहाँ लोन के लिए आवेदन करे तो उसके पहले उसमे लगने वाले समय के बारे में जानकारी जरुर जुटा ले !

तो दोस्तों, ये थी कुछ ख़ास और विशेष जानकारी आपके लिए, हालाकि मैंने बहुत से आर्टिकल पी2पी लोन के विषय में लिखे हैं ! आप वो आर्टिकल जरुर देखिये ! साथ ही इससे जुडा आपका कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट्स बॉक्स में पूछ सकते हैं ! साथ ही आप युट्यूब चेनल पर विजिट कर सकते हैं ! जहा आप लोन लेने के और भी तरीके जान सकते हैं और लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं ! आखरी में एक रिक्वेस्ट हैं की इस ब्लॉग को सबस्क्राइब जरुर करे! और साथ ही इस आर्टिकल को लाइक और शेयर जरुर करे ! अगली बार ऐसी ही जानकारी वाले आर्टिकल के साथ फिर मुलाक़ात होगी तब तक के लिए जय हिन्द जय भारत !!

शनिवार, 11 मई 2019

ख़राब सिबिल पे लोन किन चीजों के लिए मिलता हैं | Peer to Peer Lending in India

खराब सिबिल पे लोन

ख़राब सिबिल पे लोन किन चीजों के लिए मिलता हैं | Peer to Peer Lending in India 


दोस्तों मैंने बहुत से आर्टिकल पी2पी लोन  या पीयर टू पीयर लेंडिंग प्लेटफोर्म को समझाने के लिए लिखे हैं ! दोस्तों आप जानते ही हैं, की पी2पी यानी पीयर-टू-पीयर लेंडिंग  क्राउड फंडिंग का तरीका है! और इसका इस्तेमाल लोन लेने के लिए किया जाता है! इस प्लेटफोर्म पे एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से लोन लेता है! यानी जिन लोगों को लोन की जरूरत होती है,वे उन लोगों से लोन ले लेते हैं, जो लोन देकर ब्याज कमाना चाहते हैं! दोस्तों आज हम बताने जा रहे हैं कि आप किन कामों के लिए पी2पी प्लेटफोर्म से लोन ले सकते हैं! 


दोस्तों आगे बढ़ने से पहले मेरी आप सभी लोगो से एक रिक्वेस्ट हैं की अगर आप हमारे ब्लॉग पर पहली बार आये हैं तो इसे सबस्क्राइब  कर दे ताकि ऐसी ही इन्फॉर्ममेटीव जानकारी आपको सबसे पहले मिलती रहे !

आप घर के रेनोवेशन के लिए यहाँ से लोन ले सकते हैं –


दोस्तों बैंक अक्सर होम इंप्रूवमेंट की जगह होम लोन देने को महत्व देते हैं! ऐसे में यदि घर के रेनोवेशन की अनुमानित लागत 1 लाख रुपये से कम है तो 12 महीनों का पर्सनल लोन आपको काफी महंगा पड़ सकता है! इसके बजाय आप 3 से 6महीने का पी2पी लोन ले सकते हैं! इसमें लोन की रकम10,000 रुपये से शुरू होती है!और आप इस लोन की रकम का इस्तेमाल घर की मरम्मत, डेकोरेशन, फिनिशिंग आदि कामो के लिए कर सकते हैं!ख़ास बात ये हैं की इस लोन को बिना किसी एक्स्ट्रा चार्ज दिए लौटाया जा सकता है!

शादी-ब्याह के खर्च के लिए भी ले सकते हैं –


दोस्तों आप जानते ही हैं की पैसे की दिक्कत शादी-ब्याह की रंगत को फीका कर सकती है!ऐसे में यदि आप इसके लिए बचत नहीं करते रहे हैं, तो आप पीयर टू पीयर प्लेटफॉर्म से अनसिक्योर्ड लोन ले सकते हैं! इसकी मदद से आप शादी-ब्याह के खर्चों को पूरा कर सकते हैं !

मेडिकल इमर्जेंसी के लिए भी लोन ले सकते हैं –


दोस्तों जब भी कोई सड़क दुर्घटना, सर्जरी या समय लेने वाले उपचारों में अचानक पैसे की जरूरत पड़ती है तो इस तरह की जरूरतों को पूरा करने के लिए भी आप पी2पी लोन का सहारा ले सकते हैं !इतना ही नहीं डेंटल ट्रीटमेंट और कॉस्मेटिक सर्जरी के लिए भी लोन यहाँ से लिया जा सकता है! इस तरह के मेडिकल ट्रीटमेंट ज्यादातर मेडिकल इंश्योरेंस प्लान या मेडिक्लेम पालिसी के दायरे से बाहर होते हैं!

पढ़ाई-लिखाई के लिए –


दोस्तों देश में अच्छे कोलेजो की कमी है! बैंक भी एजुकेशन लोन देने में बहुत ज्यादा परेशान करते हैं ! ऐसी स्थिति में आप पी2पी लोन  के बारे में सोच सकते हैं ! वेसे बैंक की पालिसी में एजुकेशन लोन पार्ट-टाइम और एक्जीक्यूटिव प्रोग्राम के लिए नहीं मिलता लेकिन  पी2पी लोन के साथ दोनों तरह के कोर्सेस करने के लिए भी लोन ले सकते हैं !

विदेश यात्रा या ट्रेवल के लिए लोन –


दोस्तों आज देश की युवा पीढ़ी मौज-मस्ती में खूब खर्चा कर रही हैं ! वह घर पर बहुत समय के लिए नहीं रह सकती है!ऐसे में  पैसे की कमी से इसमें रुकावट पैदा होती है! लेकिन पी2पी लोन  इसमें आपकी मदद कर सकते हैं! आपको घूमने-फिरने के लिए कितने पैसे की जरूरत है और आप कितने समय के लिए सैर करना चाहते हैं उसके लिए आप पी2पी प्लेटफॉर्म पर विकल्प चुन सकते हैं!

इन्हें पढ़ना न भूले 




दोस्तों पी2पी लोन  को लेकर मैंने बहुत से आर्टिकल लिखे हैं अगर आप इस प्लेटफोर्म से लोन लेने का मन बना रहे हैं तो आपको किन किन बातो का ध्यान रखना चाहिये! अगर आपने वो आर्टिकल नहीं पढ़ा तो सबसे पहले आपको वो आर्टिकल पढ़ना चाहिये क्योकि आज ऑनलाइन मार्केट में बहुत सी फर्जी वेबसाईट भी हैं ! कही ऐसा न हो के आप किसी गलत वेबसाईट के जाल में फस जाए और अपना पैसा गवा दे तो पहले वो आर्टिकल जरुर देखिये ! अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हैं तो प्लीज इस आर्टिकल को लाइक जरुर करे इसके अलावा अगर आपके पास इस आर्टिकल से जुडा कोई सवाल हैं तो निचे कमेंट्स करके जरुर पूछे ! हो सकता हैं की आपके दोस्त या रिश्तेदार को भी लोन की जरुरत हो तो उनसे ये आर्टिकल शेयर करके आप उनकी मदद कर सकते हैं ! ब्लॉग को सब्क्स्राइब करना न भूले  क्योकि ऐसा करने से आपको ऐसी ही जानकारी रोजाना सबसे पहले मिलती रहेगी ! अगली बार ऐसी ही इन्फोर्मेटीव जानकारी के साथ फिर मुलाक़ात होगी तब तक के लिए जय हिन्द !! जय भारत !!

शुक्रवार, 10 मई 2019

ख़राब सिबिल पे लोन ? Peer to Peer Lending in India

ख़राब सिबिल पे लोन, Peer to Peer Lending in India

ख़राब सिबिल पे लोन ? Peer to Peer Lending in India 

दोस्तों,अगर आपको पर्सनल लोन लेना हैं और कम अवधि का लोन लेना हैं तो आपको पता ही होगा की इसको लेने में आपको काफी कागजी कार्यवाही करनी पड़ सकती है? इतना नहीं, इस तरह के लोन पर आपको ब्याज की दरें भी ज्यादा देना पड़ सकती हैं! लेकिन पी2पी लेंडिंग  प्लेटफॉर्म इसका अच्छा विकल्प हो सकता हैं! मैंने पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म  पर बहुत आर्टिकल लिखे हैं ! अगर आपने वो आर्टिकल नहीं पढ़े हैं तो आप वो आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं !
दोस्तों  पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म की मदद से छोटी रकम के और कम अवधि के लोन बेहद आसानी के साथ आप ले सकते हैं ! तो आइए जानते हैं पी2पी लेंडिंग  की पूरी प्रोसेस और आप कैसे उठा सकते हैं इनका फायदा!


दोस्तों पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म से आप कैसे फायदा ले सकते हैं यह जानने से पहले मेरी आप सभी से एक रिक्वेस्ट हैं की अगर आप हमारे ब्लॉग पर पहली बार आये हैं तो प्लीज इस ब्लॉग को सबस्क्राइब  कर दे ताकि आपको भी ऐसी ऐसी ही जानकारी सबसे पहले मिलती रहे !


पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन

दोस्तों पी2पी प्लेफॉर्म से लोन लेने के लिए व्यक्ति को यहां रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है! इसके लिए एक ऑनलाइन फॉर्म भी भरना पड़ता जिस फॉर्म में आपकी निजी जानकारी के साथ ही साथ  वित्तीय और व्यावसाय से जुड़ी जानकारी भी देनी पड़ती हैं ! इसके अलावा पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म इसके लिए कुछ रजिस्ट्रेशन फीस रखते हैं जिसका भुगतान आपको करना पड़ सकता हैं इसके बाद रजिस्ट्रेशन की प्रकिया पूरी करने के लिए प्लेटफॉर्म पर मांगे गए सभी दस्तावेजों को आपको देना होता हैं !


आपका क्रेडिट वेरिफिकेशन

दोस्तों लोन लेने वाले को यहाँ लोन की रकम बतानी होती है! साथ ही इस बात का भी जिक्र करना पड़ता है कि उसे लोन कितने समय के लिए चाहिए! आपका प्रोफाइल तैयार हो जाने के बाद पी2पी लेंडिंग प्लेटफोर्म आपका क्रेडिट वेरिफिकेशन करता है! लोन देने के लिए क्रेडिट स्कोर देखा जाता है! इसी पर ब्याज की दरें निर्भर करती हैं! दोस्तों यहाँ ध्यान रखे की आपका क्रेडिट स्कोर जितना अधिक होता है,लिए जा रहे लोन की ब्याज दरें उतनी ही कम होगी !


प्रोफाइल लिस्टिंग

रजिस्ट्रेशन करने और क्रेडिट स्कोर चेक होने के बाद पी2पी लेंडिंग प्लेटफॉर्म  पर आपका प्रोफाइल लिस्ट किया जाता है! इसके चलते जिन्हें लोन देना है यानी की इन्वेस्टर्स वे आपकी प्रोफाइल को देखते हैं! प्रोफाइल में क्रेडिट रेटिंग,लोन का उद्देश्य सभी बताया जाता है! आपकी प्रोफाइल से संतुष्ट होने पर लोन देने वाले आपकी प्रोफाइल को चुन सकते हैं! दोस्तों इस प्लेटफोर्म पर अधिकतर चार से पांच लोन देने वाले लोग लोन देने की पेशकश करते हैं!


वितरण या डिस्बर्समेंट

दोस्तों लोन के वितरण से पहले लोन लेने वाले और देने वाले के बीच लोन एग्रीमेंट साइन होता है! लोन के लिए लोन लेने वाले व्यक्ति को यहाँ पोस्ट-डेटेड चेक भी देने होते हैं!

इसे भी पढ़े 



लोन की अदायगी

दोस्तों लोन लेने वाले व्यक्ति को नेशनल ऑटोमेटेड क्लीयरिंग हाउस (एन.ए.सी.एच) में रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होता है! इससे लोन की ईएमआई (EMI) अपने आप लोन लेने वाले के खाते से कटकर लोन देने वाले के खाते में चली जाती है!


अब ये जान लेते हैं की आप पी2पी लेंडिंग  प्लेटफोर्म से लोन ले तो आपको किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक हैं !

दोस्तों सबसे पहले ध्यान रखे की लोन एग्रीमेंट पर डिजिटल रूप से हस्ताक्षर किए जाते हैं! लोन लेने वाले के प्रोफाइल में लॉग-इन करने पर यह एग्रीमेंट जांच के लिए उपलब्ध होता है तो लोन लेने से पहले अनुबंध की शर्ते जरुर पढ़ ले !

दुसरा आपके पोस्ट-डेटेड चेक पी2पी लोन  के लिए सिक्योरिटी के तौर पर काम करते हैं! ऐसे में यदि आप बाद में किश्तों का भुगतान नहीं करते तो उन्हें कानूनी रूप से कार्यवाही के लिए अपनाया जाता हैं !

तीसरा आप जब भी कभी पी2पी लेंडिंग प्लेटफोर्म पर रजिस्ट्रेशन करवाए तो ये जांच ले की वो कम्पनी आरबीआई से रजिस्टर हैं साथ ही किसी भी तरह के भुगतान से पहले उसकी अच्छे से जांच पड़ताल कर ले !


दोस्तों जैसा की मैंने आपको बताया मेने आपके लिए पी2पी लेंडिंग पर बहुत से आर्टिकल लिखे हैं ! उसमे एक पी2पी लेंडिंग वेबसाईट  का आर्टिकल भी हैं जिसकी लिंक आखरी में आपको मिल जायेगी ! आप उसे भी देख सकते हैं ! दोस्तों मैं आपके लिए ऐसी ही लोन और फाइनेंस से जुडी जानकारी लाते रहता हूँ ! अगर आपको किसी टॉपिक पे आर्टिकल चाहिये या आपका कोई सवाल हैं तो निचे कमेंट्स करके हमें जरुर बताये ! साथ ही इस आर्टिकल को लाइक करके आप हमारा मोटिवेशन बढ़ा सकते हैं ! दोस्तों आखरी में कहना चाहूंगा की बहुत से लोगो का क्रेडिट स्कोर खराब  हैं और वे चाहते हैं की उन्हें भी लोन मिले अगर आप भी ऐसी ही किसी व्यक्ति को जानते हैं तो उससे ये आर्टिकल शेयर करके आप उनकी मदद कर सकते हैं ! और हां अभी तक आपने ब्लॉग को सबस्क्राइब नहीं किया हैं तो प्लीज सबस्क्राइब जरुर करे ! अगली बार फिर ऐसी ही किसी जानकारी के साथ मुलाक़ात होगी तब तक के लिए जय हिन्द ....जय भारत !!!


शनिवार, 9 दिसंबर 2017

पुराना Loan चुका देने के बाद भी Loan नहीं मिल पा रहा? जानिये क्यों | ON BAD CREDIT SCORE


पुराना Loan चुका देने के बाद भी Loan नहीं मिल पा रहा? जानिये क्यों?

लगभग सभी को ये पूर्ण जानकारी हैं की यदि क्रेडिट स्कोर खराब होने के कारण कोई भी बैंक लोन नहीं देती!और यदि क्रेडिट स्कोर खराब भी हैं तो कुछ गिने चुने प्रायवेट संस्थान लोन तो दे देते हैं लेकिन आपसे ब्याज बहुत ज्यादा वसूलते हैं! विषय के परिप्रेक्ष में कई बार एसा भी होता हैं की आपने पुराने लोन अथवा क्रेडिट कार्ड का बकाया भुगतान तो कर दिया हैं किन्तु इसके बाद भी बैंक क्रेडिट स्कोर का बोलकर नया लोन देने से साफ़ इनकार करते हैं! तो इस स्थिति में क्या करना होता हैं इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इस लेख में मिल सकती हैं साथ ही क्रेडिट स्कोर को केसे सुधारा जाए उसकी भी जानकारी आपको हो जायेगी!

कहा हो जाती हैं अक्सर गलती और खामियाजा पड़ता हैं भुगतना

कई केसों में देखने में आया हैं की पुराना लोन अथवा क्रेडिट कार्ड का बकाया पेमेंट करने वाला यह सोचता रहता हैं की किसी और बेंक या वित्तीय संस्थानों को उसके डिफाल्ट की जानकारी नहीं होगी किन्तु असलियत यह हैं की कोई भी बैंक या फायनेन्स कंपनी आपके पुराने लोन अथवा कोई भी क्रेडिट हिस्ट्री को आसानी से देख सकती हैं! उदहारण के लिए समझे की आपने किसी ऋण/कार्ड का पुनर्भुगतान 6 माह तक नहीं चुकाया और उसके बाद आपने एक साथ बकाया राशी भर के सेटेलमेंट कर लिया या एक साथ जमा कर दिया अब अगर बैंक अथवा कम्पनी ने आपकी सिबिल/हाईमार्क जेसी एजेंसी को आपके भुगतान का अपडेशन नहीं किया तो निश्चित आपको नए लोन लेने में दिक्कतों का सामना करना पड सकता हैं!

सेटेलमेंट/पूरा पैसा जमा करने के बावजूद नहीं मिलता लोन क्यों?

लोन के लिए आवेदन करने के बाद बैंक या फाइनेंस कम्पनी आपकी क्रेडिट रिपोर्ट देखते हैं। आपने पूर्व के लोन किस हिसाब से चुकाए हैं ! पेमेंट का भुगतान किस प्रकार किया गया हैं ?आपने गलत तरीके से भुगतान किया हैं या प्रतेक माह की भुगतान तारीख के बाद आपने अपनी किश्त भरी हैं !या 1-2 अथवा अधिक महीने लेट पेमेंट किया हैं तो बेंक या कम्पनी इसे एप्लीकेशन को जोखिम मानती हैं और नया ऋण देने में कतराती हैं!

इस प्रकार सुधार सकते हैं अपना क्रेडिट स्कोर !

यदि कोई नया लोन लेना हो तो अपना क्रेडिट स्‍कोर सुधारने के लिए कुछ तरीको को अपनाया जा सकता हैं ! इसके लिए बैंकों के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट, शेयर, या एंडोमेंट पॉलिसी को गिरवी रख कर लोन लीजिए। डिफॉल्‍टरों के लिए लोन के ये विकल्‍प हमेशा खुले रहते हैं। इससे क्रेडिट स्‍कोर में काफी तेजी से सुधार होगा। किन्तु आपका डिफाल्ट लोन का रेपेमेंट हिस्ट्री उसी प्रकार रहेगी जिस प्रकार आपने उसे चुकाया हैं!किन्तु नए लोन के नियमित भुगतान को देखकर आपको आसानी से ऋण मिलने की संभावना होती हैं!

किनता टाइम लगेगा क्रेडिट स्कोर सुधरने में ?

क्रेडिट स्‍कोर सुधरने में साधारण रूप से दो या तीन साल लगते हैं । इसके बाद ही आप बैंकों से आसानी से लोन ले सकेंगे। अचानक से क्रेडिट स्‍कोर में सुधार लाने का कोइ रास्ता नहीं है।

यदि डिफाल्ट नहीं किया फिर भी खराब हे स्कोर तो?

कई बार ऐसा भी होता हैं की आपने तो नियमित भुगतान किया हैं किन्तु कम्पनी की त्रुटीवश आपका स्कोर खराब हो गया!अथवा किसी और द्वारा लिया गया ऋण आपके रिपोर्ट/स्कोर में बता रहा हैं जो की खराब हैं! हलाकि इसकी संभावना कम होती हैं फिर भी यदि इस प्रकार की समस्या से आपका पाला पड़ा हैं तो आप सीधे ऋण प्रदाता कम्पनी को इसमें सुधारने की शिकायत करे अथवा सिबिल सस्था के माध्यम से विवाद दायर करे!